Fake encounter: दरअसल मैं जेल नहीं जाना चाहता था - अजीत पवार का Fake encounter

Fake encounter: दरअसल मैं जेल नहीं जाना चाहता था - अजीत पवार का Fake encounter

Fake encounter (Interview) with the Ajit Pawar by Dr. Mukesh Kumar


Fake encounter: दरअसल मैं जेल नहीं जाना चाहता था - अजीत पवार का Fake encounter


अजित पवार एनसीपी के नेता हैं मगर वे बीजेपी के साथ मिल गए हैं और प्रदेश के उपमुख्यमंत्री बन गए हैं। माना जा रहा है कि मोदी शाह उनका इस्तेमाल एनसीपी को तोड़ने के लिए कर रहे हैं।





एनसीपी शिवसेना और काँग्रेस के साथ मिलकर सरकार बनाने की कवायद में जुटी हुई है। अजित पवार महाराष्ट्र कोपरेटिव बैंक घोटाले में फँसे हुए हैं और माना जा रहा है कि बीजेपी इसीलिए उनको ब्लैकमेल कर रही है।

डॉक्टर मुकेश कुमार जाने माने टीवी पत्रकार, लेखक, एकेडिमीशियन एवं कवि हैं। उन्होंने कई न्यूज़ चैनल शुरू किए हैं और बतौर ऐंकर हज़ारों टीवी कार्यक्रम प्रस्तुत कर चुके हैं। 

उनकी एक पहचान कवि के तौर पर भी है। उनका पहला कविता संग्रह साधो, जग बौराना काफी लोकप्रिय हुआ था और जल्द ही दूसरा कविता संग्रह प्रकाशित होने वाला है।

वैसे विभिन्न विषयों पर उनकी एक दर्ज़न किताबें प्रकाशित हो चुकी हैं।
Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment